लोठूजी निठारवाल

लोठूजी निठारवाल का जन्म 1804 ई. में राजस्थान के सीकर जिले के रींगस में हुआ था। ये एक क्रन्तिकारी समाज सुधारक थे। उन्होंने गुलामी की आदतन जनता में स्वाभिमान पैदा किया। उनका मत था कि अमीर एवं उच्च वर्ग कभी जनता व देश के स्वाभिमान का ध्यान नहीं रखते हैं। अंगरेजों की इज्जत को मिटटी … Read more

बालमुकुन्द बिस्सा

बालमुकुन्द बिस्सा का जन्म 1908 ई. में डीडवाना तहसील के पीलवा गांव में हुआ। इन्होंने नागौर में ‘ चरखा संघ’ एवं ‘खद्दर भण्डार’ की स्थापना कर इनका प्रचार –प्रसार किया। 1942 ई. में जयनारायण व्यास के नेतृत्व में शुरू हुए जनान्दोलन के दौरान बिस्सा को 9 जून, 1942 को भारत रक्षा कानून के अन्तर्गत बंदी … Read more

कोलायत झील, बीकानेर

कोलायत झील एक पवित्र झील है। यह राजस्थान के बीकानेर ज़िले में स्थित है, जो कि बीकानेर शहर से 50 किलोमीटर दूर स्थित है। यह मीठे पानी की झील है, जिसके समीप ही सांख्य दर्शन के प्रणेता कपिल मुनि का आश्रम है। इस झील के पास ही स्थित कपिल मुनि के आश्रम को ‘राजस्थान का … Read more

क़ुतुब मीनार

क़ुतुब मीनार का निर्माण कुतुबुद्धीन ऐबक द्वारा कराया गया। इसका निर्माण मीनार के रूप में करवाया गया था। क़ुतुब मीनार की ऊंचाई (लम्बाई) 73 मीटर है। क़ुतुब मीनार में पांच मंजिलें हैं। प्रत्‍येक मंजिल में एक बालकनी है और इसका आधार 1.5 मी. व्‍यास का है जो धीरे-धीरे कम होते हुए शीर्ष पर 2.5 मीटर … Read more

अर्जुन लाल सेठी

अर्जुन लाल सेठी एक क्रांतिकारी नेता थे, इनका जन्म जयपुर में हुआ। सेठी जी अंग्रेजी, संस्कृत, अरबी, पारसी और पाली भाषा के ज्ञाता थे। ‘शुद्र मुक्ति’, ‘स्त्री मुक्ति’, ‘महेंद्र कुमार’ आदि इनकी प्रसिद्ध पुस्तकें हैं। इन्होंने सन 1905 ई. में ‘जैन शिक्षा प्रचारक समिति’ की स्थापना की। इस समिति के तत्वावधान में ‘वर्धमान विद्यालय’, ‘वर्धमान … Read more

विजय सिंह पथिक

विजय सिंह पथिक एक क्रांतिकारी नेता थे, जिनका वास्तविक नाम भूपसिंह गुर्जर था। इनका जन्म 1882 ई. में उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिले में गुठावली ग्राम में हुआ। विजय सिंह पथिक ने बिजौलिया किसान आंदोलन का नेतृत्व किया। इन्होंने ‘वीर भारत सभा’ व ‘राजस्थान सेवा संघ’ की स्थापना की। इन्हें भी देखें अर्जुन लाल सेठी

सम्राट अशोक

चक्रवर्ती अशोक सम्राट बिन्दुसार तथा रानी धर्मा का पुत्र था। सम्राट अशोक (ईसा पूर्व 304 से ईसा पूर्व 232) एक शक्तिशाली भारतीय मौर्य राजवंश का सम्राट था। सम्राट अशोक का पूरा नाम देवानांप्रिय अशोक मौर्य था। अशोक के अन्य नाम ‘देवानाम्प्रिय’ एवं ‘प्रियदर्शी’ का उल्लेख भी मिलता है। इसका शासनकाल ईसा पूर्व 269 से 232 … Read more