चाँद बावडी दौसा जिले के आभानेरी गांव में स्थित एक बावड़ी (Step-well) है। इसका निर्माण राजा चंन्द्र द्वारा करवाया गया। पर्यटन विभाग द्वारा यहां प्रतिवर्ष सितंबर-अक्टूबर में आभानेरी महोत्सव आयोजित किया जाता है। दुनिया की सबसे गहरी यह बावडी चारों ओर से लगभग 35 मीटर चौडी है तथा इस बावडी में ऊपर से नीचे तक पक्की सीढियाँ बनी हुई हैं, जिससे पानी का स्तर चाहे कितना ही हो, आसानी से भरा जा सकता है। 13 मंजिला यह बावडी 100 फ़ीट से भी ज्यादा गहरी है, जिसमें भूलभुलैया के रूप में 3500 सीढियाँ हैं।

चाँद बावड़ी परिसर में हर्षद माता का मन्दिर स्थित है। हर्षद माता हमेशा हंसमुख प्रतीत होती है और भक्तों को खुश रहने का आशीर्वाद प्रदान करती है।

इन्हें भी देखें